आप भी हमेशा दुसरो की मदत करते हे तो ये कहानी आप ही के लिए हे। । Hindi Moral Story

बहुत सारे लोग हमेशा दूसरों के बारे में सोचते रहते हैं दूसरों के बारे में चिंता करते रहते हैं अगर आप भी उन्हीं में से एक हो तो ये  Hindi Moral Story  आप ही के लिए है।

hindi moral story

एक बहुत छोटा गांव था। उस गांव में रामू काका नाम के एक आदमी रहते थे चप्पल सिलाई का काम करते थे इस गांव में सिर्फ वही एक थे जो चप्पल सिलाई का काम करते थे। गांव के आजू-बाजू दूर-दूर तक कोई दूसरा गांव या शहर नहीं था। इसीलिए गांव के सभी लोग रामु काका पर ही निर्भर रहते थे। और राम काका को भी चप्पल सिलाई में बहुत बड़ा मजा आता था। हो एक भी दिन काम के लिए छुट्टी नहीं रहते थे रोज काम करते थे।

रामु काका की खुद की चप्पल भी फटी हुई थी लेकिन उसको सिलने के लिए भी उनको टाइम नहीं था। वह हमेशा दूसरों के बारे में सोचते रहते थे दूसरों की मदद करते रहते थे। सभी की चप्पल सिलाई कर देते थे लोगों ने उन्हें बहुत बार कहा की रामु काका खुद की चप्पल की सिलाई कर ले , नहीं तो दूसरी नई खरीद ले। लेकिन रामू काका ने उनकी नहीं सुनी।

धीरे धीरे रामू काका की चप्पल बहुत फट गई थी और इसी कारण 1 दिन रामू काका को पैर में पत्थर चुप गया पहले तो घाव छोटा था। इसीलिए रामू काका ने उस पर ध्यान नहीं दिया लेकिन धीरे-धीरे घाव बढ़ने लगा। रामू काका ठीक से चल भी नहीं पा रहे थे इसी कारण गांव के कुछ लोग रामु काका को पास में बड़े शहर में डॉक्टर को दिखाने के लिए ले गए।

hindi moral story

डॉक्टर के चेक करने के बाद डॉक्टर ने उन्हें कहा यह घाव बहुत बढ़ चुका है , और इसके वजह से पैर में बहुत इनफेक्शन हो गया है। ये इनफेक्शन बहुत ही खतरनाक है इसके वजह से आपकी जान भी जा सकती है। अगर आपको अपनी जान बचानी है तो आपको अपना एक पैर काटना पड़ेगा रामु काका को अपना एक पैर गवाना पड़ा इस हादसे के बाद रामु काका को चप्पल सिलाई का काम छोड़ना पड़ा और उस दिन के बाद गांव में सारे लोग फटे हुए चप्पल पहनते थे।

Moral Of This Hindi Motivational Story

देखा दोस्तों दूसरों के बारे में सोचते रहने से हमें खुद को और दूसरों को भी उतना ही नुकसान होता है। इसीलिए पहले खुद के बारे में सोचिए अगर हम खुद अच्छे होगे तभी हम दूसरों का ख्याल रख पाएंगे ,हमारे प्रिय व्यक्तियों का अच्छे से ध्यान रख पाएंगे। इसीलिए खुद का भी ध्यान रखिए।

दोस्तों आपको यह Hindi Inspirational Story With Moral अच्छी लगी हो तो कमेंट में जरूर बताइए अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिए ऐसे ही Hindi Moral Story  पढ़ने के लिए नीचे दिए हुए लिंक पर क्लिक कीजिए धन्यवाद

Hindi Moral Stories

ankit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *